समाज कल्याण अधिकारी ने पेंशन योजना के लिए क्या जागरूक

ग्रेटर नोएडा। सदर तहसील के ग्राम गुलिस्तान पुर में आज समाज कल्याण विभाग द्वारा महिला उन्नति संस्था भारत के सहयोग से ग्रेटर नोएडा के ग्राम गुलिस्तानपुर में विधवा पेंशन वृद्धा पेंशन मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का प्रचार प्रसार क्या गया। इसमें समाज कल्याण अधिकारी आनंद कुमार ने बताया कि लोगों को सरकारी पेंशन योजना का लाभ लेना चाहिए क्योंकि गांवो में रह रहे यह योजनाएं लोगों तक नहीं पहुंच पाती हैं। इसलिए हम लोग संस्था के साथ मिलकर गांव-गांव जाकर लोगों को वृद्धा पेंशन विधवा पेंशन मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनाओं का प्रचार प्रसार कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं। जिससे लोग इन योजनाओं का लाभ उठा सकें। वहीं महिला उन्नति संस्था के संस्थापक डॉक्टर राहुल वर्मा ने बताया कि महिला उत्थान संस्था समाज कल्याण विवाह के साथ मिलकर लोगों को गांव-गांव जाकर जागरूक कर रही है। जिससे लोग इन योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं। और यह जागरूक अभियान समाज कल्याण विभाग के साथ जाकर जारी रहेगा। संस्था के प्रदेश सचिव देवेंद्र चंदेल समाज कल्याण की पूरी टीम गांव के गणमान्य लोग सभी लोग उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

मरम्मत कर रहा बिजली कर्मचारी करंट से झुलसा
पत्रकारिता की भूमिका पर संगोष्ठी , संवाद संस्था ने किया आयोजन
कृषक ऋण मोचन योजना : जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने 1018 किसानों को बांटे प्रमाण पत्र
YAMUNA EXPRESSWAY पर पेड़ काटने के मामले में हाईकोर्ट ने मांगा जवाब
आईजी जेल ने किया गौतमबुद्धनगर जिला कारागार का औचक निरीक्षण
किसान करेंगे ग्रेनो प्राधिकरण कार्यालय का घेराव
अनुसूचित जाति जन जाति अधिवक्ता संघ के सचिव बने एडवोकेट धर्मेंद्र जयंत
साकीपुर गांव में मनाई गई डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जयंती
ग्रेटर नोएडा : "धर्मनिरपेक्षता और लोकतंत्र" विषय पर विचार गोष्ठी 27 मई को
भाकियू अम्बावता के कार्यकर्ताओं का धरना जारी
भारतीय किसान यूनियन(भानु) संगठन के कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ शिक्षाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
जेवर एयरपोर्ट के सम्बन्ध में जिला प्रशासन ने ग्रामीणों के लिए जारी किया ऑडियो , सुनें
ग्रेटर नोएडा : केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने 15 करोड़ के विकास कार्यों का शिलन्यास किया
ग्रेनो प्राधिकरण CARNIVAL के INVITATION CARD पर क्यों मचा बवाल, पढ़ें पूरी खबर
सूरजपुर प्राचीन कालीन बाराही मेला का आगाज, लोक नृत्यों में झलकी राजस्थानी संस्कृति
राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में मेडिकल पाठ्यक्रम में बदलाव पर कार्यशाला