ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की नई प्रक्रिया से बढ़ी अनट्रेंड ड्राइवर की मुश्किल

नई दिल्ली (यश मेहरोत्रा):  मोटर वाहन लाइसेंस बनवाने वालों के लिए बड़ी खबर है. आज आप सरकार ने दिल्ली हाई कोर्ट को जानकारी दी है कि ड्राइविंग परमिट जारी करने की प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने के लिए वो कुछ कदम लेने जा रही है. मोटर वाहन लाइसेंस के लिए होने वाली प्रैक्टिकल परीक्षा की वीडियोग्राफी कराने का फैसला किया गया है.

कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर की पीठ को दिल्ली सरकार ने ये सूचना दी. समूची कवायद को आज से परिवहन विभाग के सभी 13 जोनों में शुरू कर दिया गया है और वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए एक एजेंसी की नियुक्ति की गई है.

परिवहन विभाग ने हाई कोर्ट को यह भी बताया कि गाड़ी चलाने के परीक्षण की वीडियो को विभाग की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा. इसपर अदालत ने कहा कि यह कदम पूरे तंत्र में और ट्रांसपेरेंसी लाएगा और भ्रष्टाचार की शंकाओं को दूर करने में मददगार होगा.

अदालत ने दिल्ली सरकार को अनुपालन रिपोर्ट आठ हफ्तों में दायर करने के निर्देश दिए और मामले की अगली सुनवाई 22 मई को मुकर्रर की है.

यह भी देखे:-

नहर में डूबा युवक
शारदा विश्विद्यालय में जल संरक्षण पर "जल है तो कल है " कार्यक्रम का आयोजन
अन्ना सत्याग्रह में शामिल होने सैकड़ों कार्यकार्ता दिल्ली रवाना
अभिज्ञान 2018 में स्काई लाइन के छात्रों ने लहराया परचम
अकीदत के साथ निकला सातवीं मोहर्रम का जुलूस
अनिल कुमार तोंगड़ बने हिन्दू रक्षा सेना गौतमबुध नगर के जिलाध्यक्ष
स्वर्गीय चौधरी वेद राम सिंह नागर की पुण्यतिथि पर होगा कवि सम्मेलन का आयोजन
राजस्थान गुर्जर आरक्षण के समर्थन में अखिल भारतीय गुर्जर परिषद ने किया प्रदर्शन
राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ा झटका
नाले में गिरा ट्रेक्टर, महिला घायल
फ्लैट से शादी का सामान ले उड़े चोर
एनआइयू-एनआइओएस ने आयोजित की ऑन लाइन शिक्षण पर कार्यशाला
नाले में डूबकर दो सफाईकर्मियों की मौत
प्रेमिका का आपत्तिजनक फोटो सोशल मीडिया पर किया वायरल, पहुंचा हवालात
कंपनी में लगी आग में मजदूर की जलने से मौत
पुलिस पर हमला करने वाला हरियाणा का सरपंच गिरफ्तार