ग्रेटर नोएडा : उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया बिजली उद्योग की सबसे बड़ी प्रदर्शनी ELECRAMA-2018

ग्रेटर नोएडा : आज शहर के इण्डिया एक्सपो मार्ट में पांच दिवसीय ELECRAMA 2018 (The biggest showcase of the world of electricity) का उद्घाटन भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया . इस मौके पर केंद्रीय व्यापार और उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु और उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सतीश महाना भी मौजूद थे . विबता दें इलेक्रामा बिजली क्षेत्र की कंपनियों के सबसे बड़ी प्रदर्शनी है .. जिसमें देश -विदेश से सौ से ज्यादा कम्पनियां हिस्सा ले रही हैं . प्रदर्शनी के दौरान बिजली के उत्पादन , वितरण ट्रांसमिशन में चुनौतियाँ व नए प्रयोग और रिसर्च पर सेमिनार का भी आयोजन किया जायेगा . यह प्रदर्शनी बिजनेस टू बिजनेस है .

इस मौके पर अपने उद्बोधन में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा – I am delighted to inaugurate ELECRAMA-2018, the Indian Electrical and Electronics Manufacturing Association’s flagship event showcasing the electricity industry’s ecosystem, in NOIDA today

The Indian Electrical Equipment Industry consists of generation, transmission, distribution and allied equipment and this industry provides direct employment to 5 lakh persons, indirect to 10 lakh others and over 50 lakhs across the entire value chain

Indian electrical industry is facing stiff competition from imports and is seeking the creation of a level playing field for the domestic industry. I am sure the power sector will rise to occasion and ensure that the quality of international standards.

Various initiatives taken by the government have improved India’s rank in World Bank’s Ease of Getting Electricity Index from 99 to 26. At the end of December 2017, only 1370 villages remained to be electrified out of 18, 452 un-electrified villages

Today global warming and climate change are affecting every aspect of our life and any new policy has to factor in the urgent need to protect environment and ensure sustainable development.

With India ranking second in Renewable Energy Attractive Index 2017, this sector is bound to play a major role in the years ahead. Energy storage technologies are needed not only to create more resilient infrastructure but also to bring down costs.

Electric vehicles & hybrid electric vehicles will be driving the automobile industry in the coming years. The government had already unveiled the National Electric Mobility Mission Plan and set a target of 6-7 million units of Electric Vehicles & hybrid electric vehicles by 2020

I congratulate IEEMA for organizing this event and I am sure this will cover every aspect relating to electronics and electrical industry and come out with recommendations for meeting future energy needs through greener and sustainable technologies.

यह भी देखे:-

सेक्टर - 20 पुलिस ने गहने चुराकर भागने वाले घरेलु नौकर को किया गिरफ्तार
पजेशन न मिलने से दु:खी खरीदारों ने किया हंगामा, पीएम सीएम से लगाई मदद की गुहार
अन्ना सत्याग्रह सफल बनाने के लिए की जाएगी दिल्ली-एनसीआर की परिक्रमा
प्रदूषण विभाग ने मिक्सर प्लांट पर लगाया 5 लाख का जुर्माना
संयुक्त किसान अधिकार आन्दोलन : सैमसंग पर धरना देने के लिए ग्रामीणों को किया जागरूक
राजू श्रीवास्तव, रामशंकर और कैलाश मासूम का स्वच्छता अभियान
आदर्श रामलीला सूरजपुर : रामजन्म पर अयोध्या में ख़ुशी की लहर
एस.के. मुखर्जी बने राष्ट्रीय लोक दल लीगल सेल के राष्ट्रीय प्रवक्ता
श्री लवकुश धार्मिक रामलीला दादरी : राम- केवट प्रसंग का सजीव मंचन देख भावुक हुए दर्शक
ग्रेड्स इंटरनेशनल स्कूल में मेगा बेबी शो , बच्चों ने अपनी प्रतिभा का किया प्रदर्शन
लापता युवक के परिजनों ने कराया मुकदमा दर्ज
बड़ी कार्यवाही : ड्रग विभाग ने दो मेडिकल स्टोर बंद किए
उत्तर प्रदेश बजट 2019 : प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट के लिए सीएम योगी ने खोला खजाना
शारदा विश्वविद्यालय में आयोजित "कोरस-2019 " का हुआ समापन
इन लोकसभा चुनाव क्षेत्र के परिमाण आने में हो सकती है देरी, पढ़ें पूरी खबर
पौधा सौंप कर दी गजेंद्र चौधरी को अध्यक्ष बनने की बधाई