एक दीप शहिदों के नाम पर विचार गोष्टी

ग्रेटर नोएडा। महिला उन्नति संस्था (भारत)द्रारा स्वतंत्रता दिवस के संदर्भ में ग्रेटर नोएडा के दिशा ट्रेनिंग सेंटर परिसर में एक दीप शहिदों के नाम विषय पर विचार गोष्टी का आयोजन किया गया । गोष्टी को सम्बोधित करतें हुए संस्था के संस्थापक डाo राहुल वर्मा ने कहा कि आगामी 15अगस्त देश का 71 वा स्वाधीनता दिवस है । इस आजादी को पाने के लिए हमारे अनेकों स्वतंत्रता सेनानिओ ने अपनी जान देश के नाम कुर्बान कर दी । जिसके फलस्वरूप आज हम आजाद है इस लिये हमारा दायित्व बनता है कि हम उन महापुरुषों का सम्मान करें साथ ही उन्होंने समस्त देशवासिओं और सामाजिक संगठनों से स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर देश के सभी सरकारी और निजी प्रतिष्ठानों पर देश के अमर शहीदो के सम्मान में दीप जलाने की अपील की । गोष्टी में अपने विचार रखते हुए श्रीमती बिमलेश मनी ने ये अवसर है जब हम देश की रक्षा के लिये अपने प्राणों की आहुति देने वाले देश के वीर बहादुर सेनिकों के सम्मान में एक दीप जलाकर आज की युवा पीढ़ी के दिल में देश भक्ति जज़्बा पैदा कर सके ताकि देश की रक्षा के लिए हर नागरिक एक सिपाही का फर्ज निभा सकें । गोष्टी में महासचिव अनिल भाटी,गीता चौधरी ,रोजी सिंह कुमारी पिंकी,अनिता प्रसाद और दिनेश प्रजापति ने अपने विचार रखे।

यह भी देखे:-

मरम्मत कर रहा बिजली कर्मचारी करंट से झुलसा
 दनकौर नगर पंचायत कार्यालय की सुरक्षा बढ़ी, लगे सीसीटीवी कैमरे 
बिल्डिंग के 20 वीं मंजिल से गिरकर युवती की मौत
मंगलवार को तहसीलों में आयोजित होगा सम्पूर्ण समाधान दिवस
जहांगीरपुर: श्री रामायण मेला समिति की नई कार्यकारणी गठित, सुरेंद्र शर्मा सरल बने अध्यक्ष
दोषी पुलिसकर्मी के खिलाफ मामला दर्ज होते वकीलों ने समाप्त किया हड़ताल 
विवेकानंद के रास्ते पर चलकर ही भारत विश्वगुरू बन सकता है: कैप्‍टन पी के सिंह
वाहन ने दो महिलाओं को कुचला, एक की मौत
जयंती पर बापू और शास्त्री जी को नमन कर एसएसपी लव कुमार ने पुलिसकर्मियों को किया सम्मानित
राजवाहे में मिला अज्ञात युवती का शव, जांच में जुटी पुलिस
आशु पहलवान घंघोला बने किसान कामगार मोर्चा सदर तहसील अध्यक्ष
गौतमबुद्ध नगर : थाना प्रभारियों में फेरबदल
भाकियू भानु संगठन की बैठक आयोजित
डिवाइडर से टकराई बाइक, बी.टेक छात्र की मौत
नई शस्त्र पॉलिसी, इन लोगों को नहीं मिलेगा लाइसेंस, पढ़ें पूरी खबर
सुपरटेक खरिदारों ने किया हगांमा, जानिए क्यों