अधिवक्ता धर्मेंद्र जयंत को सूरजपुर न्यायालय में बनाया गया एडीजीसी

ग्रेटर नोएडा। शासन के निर्देश पर गौतमबुद्ध नगर सूरजपुर न्यायालय में 14 अधिवक्ताओं को एडीजीसी और डीजीसी बनाया गया है। वहीं साकीपुर के रहने वाले अधिवक्ता धर्मेंद्र जयंत को सूरजपुर न्यायालय में एडीजीसी बनाया गया है। धर्मेंद्र जयंत लगभग 12 वर्षों से न्यायालय में प्रैक्टिस कर रहे है। वह साकीपुर के रहने वाले हैं। इनके पिता प्रेमराज सिंह एक समाजसेवी हैं। वही शासन ने तीन डीजीसी और 11 एडीजीसी अधिवक्ताओं की नियुक्ति की है। ब्रहम जीत भाटी को डीजीसी फौजदार, नीरज शर्मा को डीजे सी सिविल, चरणजीत नागर को डीजीसी अधिवक्ता बनाया गया है। वहीं धर्मेंद्र जयंत एडीजीसी, हरीश सिसोदिया एडीजीसी, सुखबीर सिंह एडीजीसी, रोहताश शर्मा एडीजीसी,मूलचंद शर्मा एडीजीसी,पंकज शर्मा एडीजीसी,कमलेश सिंह एडीजीसी, राजेंद्र सिंह एडीजीसी, दिनेश भाटी एडीजीसी, प्रताप रावल एडीजीसी, श्याम सिंह एडीजीसी इन सभी को शासकीय अधिवक्ता बनाया गया है। इनकी नियुक्ति होने वाले शासकीय अधिवक्ताओं को साथी अधिवक्ताओं ने फूलों की माला पहनाकर व मिठाई खिलाकर बधाई दी।

यह भी देखे:-

साइबर सेल नोएडा ने तीन ठगों को किया गिरफ्तार, ऐसे करते थे  शाॅप-18 के नाम पर ठगी 
पुलिस टीम पर हमला करने वाला एक आरोपी गिरफ्तार
ग्रेटर नोएडा : कासना पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ शातिर बदमाश, तीन गिरफ्तार
बकाया चुकाने के बाद आम्रपाली ग्रुप के सीईओ हेल्थ व निदेशक रिहा
राजस्थान, हरियाणा दिल्ली के बाद ग्रेटर नोएडा में कोई काट रहा है चोटियां, दहशत में महिलाएं
वाहन ने दो महिलाओं को कुचला, एक की मौत
ईकोटेक - 3 पुलिस ने दो वांटेड वारंटी को गिरफ्तार किया
हथियार की नोंक पर युवक से लूटी मोटरसाईकिल
डीएम बी.एन. सिंह व एसएसपी लव कुमार को इस नेक काम के लिए मिल रही है खूब वाहवाही
दुल्हन की शिकायत लेकर दूल्हा पहुंचा थाने
प्रभारी निरीक्षक जितेन्द्र कुमार को कासना कोतवाली में दी गयी विदाई
आशु पहलवान घंघोला बने किसान कामगार मोर्चा सदर तहसील अध्यक्ष
हत्या के प्रयास में वांटेड चढ़ा पुलिस के हत्थे
नहर में मिला अज्ञात महिला का शव
बच्चे के साथ कुकर्म , आरोपी गिरफ्तार
सीसीटीवी में कैद हुई चोरी की वारदात, बदमाशों ने लाखों के माल पर किया हाथ साफ़